Home / technology explained / क्या चोट को चाटने से जख्म ठीक हो जाते है ?
क्या चाटने से जख्म ठीक हो जाते है ?
क्या चाटने से जख्म ठीक हो जाते है ?

क्या चोट को चाटने से जख्म ठीक हो जाते है ?

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

अक्सर देखा जाता है कि, मामूली चोट अथवा कट लग जाने पर हम अनायास ही जख्म को अपने मुह में ले लेते है,

अथवा चाटने लगते है। ये प्रवत्ति इंसानो से परे जानवरो में भी एक आम बात है।

तो क्या चाटने से जख्म ठीक हो सकते है?
Answer Is Yes (But Not Always)

साइंटिफिक रिसर्च :-

2008 में पब्लिश एक साइंटिफिक रिसर्च के अनुसार, मानव सलाइवा (थूक) में हिस्टेटिन नामक एक प्रोटीन पाया जाता है,

जो कोशिकाओ के रिपेयर होने की क्षमता में वृद्धि करता है

इसके साथ साथ थूक के अंदर Lysozymes, Cystatin, Peroxidase, Defensins आदि प्रोटीन भी पाये जाते है

जो स्वभाव से एंटी बैक्टीरियल होते हैं।

थूक के अंदर इतने प्रचुर मात्रा में प्रतिरोधक प्रोटीन्स का होना ही शायद “मुह के अंदर की चोटो” के द्रुत गति से ठीक होने का मुख्य कारण है।

यही कारण है कि मेडिकल हेल्प प्राप्त करने से वंचित पशु अपने जख्मो को चाट कर ठीक कर पाने में सक्षम होते हैं।

मानवता के इतिहास का एक बड़ा हिस्सा हमने जंगलो में शिकार करते हुए बिताया है..

जब मेडिकल सुविधाओ के अभाव के कारण हम अपने जख्मो को चाट कर ही ठीक करते आये हैं।

शायद यही कारण है कि चोट लगने पर हम अनायास ही जख्मो को चाटने लगते है

क्योंकि जख्मो को चाटने का अनुभव सदियो से हमारे डीएनए में संवहित होता आया है।

क्या जख्म चाटने से कोई नुकसान होता है :-

But.. There Are Some Risks Too !!!
चूँकि हम जानते हैं कि हमारा मुह अरबो खरबो बैक्टीरिया का भी घर है…

मुह में अंदर ये बैक्टीरिया हमें कोई ख़ास नुकसान नही पहुचाते..

लेकिन..अगर जख्म बेहद गहरा है तो हमारे जख्म को चाटने से ये बैक्टीरिया हमारे शरीर के अंदर पहुच जाए तो कभी कभी बड़ी समस्या का कारण बन सकते हैं।

रिकॉर्ड के अनुसार एक मधुमेह से पीड़ित व्यक्ति का एक रोड एक्सीडेंट के बाद अंगूठा काटना पड़ा.. वजह? क्योंकि उसने अंगूठे को चोट के बाद चाटना शुरू कर दिया था..

जिससे इन्फेक्शन इतना बढ़ गया था कि अंगूठे को काटने के अलावा कोई विकल्प नही बचा था।
यही कारण है

कि अक्सर शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को प्रभावित करने वाली बीमारियो से ग्रसित व्यक्ति को डॉक्टर्स जख्मो पर मुह लगाने से मना करते हैं।

ये भी पढ़े :-

सेल्लो टेप से जुड़े कुछ रह्शय

सूर्य के बिना पर्थवी पर जीवन कैसा होगा ?

निष्कर्ष :- 

अगर आप शारीरिक रूप से स्वस्थ हैं तो आप चोट लगने पर चोट के स्थान को जीभ से चाट सकते हैं।
लेकिन अगर जख्म गहरा है,

और आपका मेडिकल रिकॉर्ड बीमारियो से भरपूर रहा है तो..
मुह बन्द रखने में ही भलाई है।
Or Rather Open It To Scream For Help !!!


And As Always
Thanks For Reading !!

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Check Also

जीरो पर्सेंट फाइनेंस

जीरो पर्सेंट फाइनेंस स्‍कीम क्या होती है, पूरी जानकारी

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.दोस्तों आज हम बात करेंगे 0% finance …

सूर्य के बिना पृथ्वी पर जीवन कैसा होगा ?

सूर्य के बिना पृथ्वी पर जीवन कैसा होगा ?

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.Contents1 सूर्य के बिना पृथ्वी पर जीवन …

youtube se paise kaise kamaye

youtube se paise kaise kamaye puri jankari hindi me

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.hello dosto aaj ham baat karenge youtube …

Leave a Reply